Blogs Hub

by AskGif | Feb 02, 2019 | Category :यात्रा

Top Places to visit in Madhepura, Bihar

मधेपुरा में देखने के लिए शीर्ष स्थान, बिहार

<p>मधेपुरा भारतीय राज्य बिहार में मधेपुरा जिले में एक नगरपालिका है।</p> <p>मधेपुरा जिला बिहार राज्य, भारत के अड़तीस जिलों में से एक है, और मधेपुरा शहर इस जिले का प्रशासनिक मुख्यालय है। मधेपुरा जिला कोसी प्रमंडल का एक हिस्सा है।</p> <p>&nbsp;</p> <p>उप-विभाजन</p> <p>मधेपुरा जिले में निम्नलिखित उप-विभाग शामिल हैं:</p> <p>&nbsp;</p> <p>मधेपुरा</p> <p>उदय कृष्णगंज</p> <p>ब्लाकों</p> <p>मधेपुरा</p> <p>Ghelardh</p> <p>सिंगेश्वर-स्थान प्रखण्ड</p> <p>Gamhariya</p> <p>Shankarpur</p> <p>Kumarkhand</p> <p>मुरलीगंज</p> <p>Gwalpara</p> <p>बिहारीगंज</p> <p>Udakishunganj</p> <p>Puraini</p> <p>Alamnagar</p> <p>&nbsp;</p> <p>धार्मिक स्थल</p> <p>&nbsp;</p> <p>शिव मंदिर</p> <p>सिंगेश्वर मंदिर</p> <p>मधेपुरा सिंहेश्वर मंदिर के लिए भी सुर्खियों में है क्योंकि इसमें स्थापित भगवान शिव का अष्ट लिंग है। बराह पुराण भी सिंहेश्वर को श्रृंगेश्वर के रूप में संदर्भित करता है। महाकवि विद्यापति ने भी 14 वीं शताब्दी में अपने साहित्य में इसका उल्लेख किया है। वाल्मीकि रामायण ऋषि श्रृंग (ऋष्यशृंग) आश्रम का यथोचित संदर्भ देती है। महाकवि कालिदास द्वारा लिखित महाकाव्य कुमार शंभवम में भगवान शिव को उनके पसंदीदा और स्नेही नदी कोसी के तट पर रहने की कल्पना की गई है। एक अन्य मान्यता के अनुसार, भगवान विष्णु ने स्वयं इस लिंग की स्थापना की थी। वर्तमान मंदिर को कुषाण वंश द्वारा बनवाया गया था। प्रारंभिक सर्वेक्षण में, मंदिर एक भानु दास के नाम पर दर्ज है। उनका कहना है कि सिंहेश्वर में एक रात रुकने से हजार गायों के उपहार का फल मिलता है। सिंघेश्वरवर्मपल की आधिकारिक वेबसाइट</p> <p>&nbsp;</p> <p>डाकिनी स्टान, आलमनगर ब्लॉक</p> <p>नयनगर भगवती स्थान, नयनगर, ग्वालपारा ब्लॉक</p> <p>&nbsp;</p> <p>बाबा विशु राउत, लोवलगन। Chousa</p> <p>&nbsp;</p> <p>सरकारी संस्थान और अदालतें</p> <p>मधेपुरा में सरकारी संस्थानों में शामिल हैं:</p> <p>&nbsp;</p> <p>नगर निगम</p> <p>कलेक्ट्रेट</p> <p>संभागीय आयुक्त का कार्यालय</p> <p>जिला न्यायालय, मधेपुरा</p> <p>शहरी सुधार ट्रस्ट (UIT)</p> <p>स्वास्थ्य सेवाएं</p> <p>हेल्थकेयर सार्वजनिक और निजी क्षेत्र के अस्पतालों के संयोजन द्वारा प्रदान किया जाता है।</p> <p>&nbsp;</p> <p>सदर अस्पताल, मधेपुरा</p> <p>मादीपुरा क्रिश्चियन अस्पताल।</p> <p>शिक्षा</p> <p>834 सरकार। स्कूल जिलों में शिक्षा प्रदान कर रहे हैं। भूपेंद्र नारायण मंडल विश्वविद्यालय, जिला मुख्यालय, मधेपुरा में स्थित है और इस जिले के शैक्षिक वातावरण को गौरवान्वित करता है।</p> <p>&nbsp;</p> <p>शैक्षिक संस्थानों की सूची</p> <p>बी.एन.मंडल यूनिवर्सिटी महेपुरा</p> <p>T.P.College,</p> <p>P.Sc.College,</p> <p>कॉमर्स कॉलेज,</p> <p>मधेपुरा कॉलेज,</p> <p>C.M.Sc कॉलेज,</p> <p>R.P.M. कॉलेज</p> <p>जवाहर नवोदय विद्यालय,</p> <p>शिव नंदन प्रसाद मंडल हाई स्कूल,</p> <p>राश बिहारी हाई स्कूल</p> <p>किरण पब्लिक स्कूल, होली क्रॉस, पवित्र स्वर्गदूत, (वेबसाइट)</p> <p>बी आर ऑक्सफोर्ड आवासीय पब्लिक स्कूल, मुरलीगंज मधेपुरा</p> <p>समिधा ग्रुप</p> <p>मधेपुरा पब्लिक स्कूल</p> <p>के.पी.कॉलेज मुरलींग</p> <p>B.L.High School मुरलीगंग</p> <p>पारसमणि हाई स्कूल बाबू बभनी</p> <p>सरकार। हाई स्कूल अमारी मुरलीगंज मधेपुरा</p> <p>एम.एम. हाई स्कूल कुमारखंड</p> <p>प्रोजेक्ट कन्या उच्च विद्यालय कुमारखंड</p> <p>दुर्गापुर, भदोही, मंगुवार</p> <p>वेद व्यास इंटर कॉलेज अमलेश्वर नगर मधेपुरा</p> <p>वेद व्यास डिग्री कॉलेज अमलेश्वर नगर मधेपुरा</p> <p>सेंट विलियम्स आवासीय विद्यालय, कर्पूरी चौक, मधेपुरा</p> <p>होली क्रॉस गर्ल्स स्कूल, शास्त्री नगर मधेपुरा</p> <p>होली क्रॉस स्कूल, एन। एच। 107 चकला चौक मधेपुरा</p> <p>माया विद्या निकेतन, नया नगर, मदनपुर, मधेपुरा</p> <p>&nbsp;</p> <p>समारोह</p> <p>शिवरात्रि मधेपुरा का सबसे अधिक मनाया जाने वाला त्योहार है। आम भारतीय त्योहार जैसे होली, दिवाली, ईद उल फितर, ईद उल जोहा, दुर्गा पूजा, विजयादशमी, सरस्वती पूजा और मोहर्रम शहर में बड़े ही धूमधाम से मनाए जाते हैं।</p> <p>स्रोत: https://en.wikipedia.org/wiki/Madhepura_district</p>

read more...