Blogs Hub

by AskGif | Mar 03, 2019 | Category :यात्रा

Top Places to visit in Kurnool, Andhra Pradesh

कुर्नूल में घूमने के लिए शीर्ष स्थान, आंध्र प्रदेश

<p>कुरनूल भारतीय राज्य आंध्र प्रदेश में कुरनूल जिले का मुख्यालय है। [५] शहर को अक्सर रायलसीमा के गेटवे के रूप में जाना जाता है। [६] यह 1 अक्टूबर 1953 से 31 अक्टूबर 1956 तक आंध्र राज्य की राजधानी थी। 2011 की जनगणना के अनुसार, यह 460,184 की आबादी वाला राज्य का पांचवा सबसे अधिक आबादी वाला शहर है।</p> <p>&nbsp;</p> <p>भूगोल और जलवायु</p> <p>स्थान</p> <p>कुरनूल 15.8333 &deg; N 78.05 &deg; E पर स्थित है। [16] इसकी औसत ऊंचाई 273 मीटर (898 फीट) है।</p> <p>&nbsp;</p> <p>कुर्नूल तुंगभद्रा नदी के तट पर स्थित है। हुंदरी और नीवा नदियाँ भी शहर से होकर बहती हैं। K.C.Canal (कुर्नूल-कुडापाह) डच द्वारा परिवहन के लिए बनाया गया था, लेकिन बाद में इसका उपयोग सिंचाई के लिए किया गया।</p> <p>&nbsp;</p> <p>सिटीस्केप</p> <p>शहर के भीतर और आसपास के लैंडमार्क में कोंडा रेड्डी किला को पूर्व में कहा जाता है जिसे कोंडारेड्डी बुर्ज कहा जाता है, यह शहर के उत्तर पूर्व भाग में स्थित कुरनूल का ऐतिहासिक स्मारक और प्रमुख पर्यटक आकर्षण है। [१]] ओरवाकल रॉक गार्डर्न, मूर्तिकला गार्डन है जिसमें प्राचीन गुफा शहर के दक्षिण पूर्व में स्थित है। [१ern]</p> <p>&nbsp;</p> <p>जलवायु</p> <p>गर्मियों में 26 &deg; C (78.8 &deg; F) से लेकर 46 &deg; C (114.8 &deg; F) तक और 12 &deg; C (53.6 &deg; F) से 31 &deg; C (87.8 &deg; F) तक के तापमान के साथ जलवायु उष्णकटिबंधीय होती है। औसत वार्षिक वर्षा लगभग 705 मिलीमीटर (28 इंच) है।</p> <p>&nbsp;</p> <p>जनसांख्यिकी</p> <p>आबादी</p> <p>2011 की जनगणना के अंतिम आंकड़ों के अनुसार, कुरनूल शहरी समूह की आबादी 484,327 थी, जिससे यह आंध्र प्रदेश राज्य का पांचवा सबसे बड़ा शहर बन गया [21]।</p> <p>&nbsp;</p> <p>साक्षरता</p> <p>2011 की जनगणना के समय कुरनूल की साक्षरता दर 77.37 प्रतिशत थी।</p> <p>&nbsp;</p> <p>धर्म</p> <p>2011 की जनगणना के अंतिम आंकड़ों के अनुसार, हिंदुओं ने कुरनूल शहरी समूह में बहुमत का गठन किया। कुरनूल में पाए जाने वाले अन्य धार्मिक समूह मुस्लिम, ईसाई, सिख और पारसी हैं।</p> <p>&nbsp;</p> <p>राजनीति</p> <p>श्री एस.वी. मोहन रेड्डी वर्तमान में कुरनूल विधानसभा के लिए विधायक पद रखते हैं, [२४] जैसा कि सुश्री बुट्टा रेणुका ने सांसद का पद धारण किया है और लोकसभा में कुरनूल निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करती हैं [२५]</p> <p>&nbsp;</p> <p>शिक्षा</p> <p>राज्य के स्कूल शिक्षा विभाग के सरकारी, सहायता प्राप्त और निजी स्कूलों द्वारा प्राथमिक और माध्यमिक स्कूल शिक्षा प्रदान की जाती है। [२६] [२१] ICDS विभाग के आंगनवाड़ी केंद्रों द्वारा प्री-स्कूल</p> <p>&nbsp;</p> <p>शहर में इंजीनियरिंग और मेडिकल डिग्री दोनों के लिए कुछ प्रसिद्ध संस्थान हैं जैसे कुरनूल मेडिकल कॉलेज (KMC), Pulla Reddy Engineering College आदि। KMC को AP और भारत के प्रमुख मेडिकल कॉलेजों में से एक माना जाता है।</p> <p>&nbsp;</p> <p>इतिहास</p> <p>पुरापाषाण युग</p> <p>केतवरम [10] पुरापाषाण युग के शैल चित्र और (कुरनूल से 18 किलोमीटर) हैं। इसके अलावा कुर्रूल जिले में जुरेरू घाटी, कटावनी कुंटा [11] और यागंती में आसपास के क्षेत्र में कुछ महत्वपूर्ण रॉक आर्ट और पेंटिंग हैं, जो 35,000 से 40,000 साल पहले की हो सकती हैं।</p> <p>&nbsp;</p> <p>बेलम गुफाएं जिले में भौगोलिक और ऐतिहासिक रूप से महत्वपूर्ण गुफाएं हैं। ऐसे संकेत हैं कि सदियों पहले जैन और बौद्ध भिक्षु इन गुफाओं पर कब्जा कर रहे थे। गुफाओं के अंदर कई बौद्ध अवशेष पाए गए थे। ये अवशेष अब संग्रहालय में अनंतपुर में रखे गए हैं। भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण (एएसआई) ने पूर्व-बौद्ध काल के जहाजों और अन्य कलाकृतियों के अवशेष पाए और गुफाओं में पाए जाने वाले जहाजों के अवशेषों को 4500 ईसा पूर्व में प्राप्त किया है। [12]</p> <p>&nbsp;</p> <p>विजयनगर युग</p> <p>11 वीं शताब्दी से पहले कुरनूल शहर के बारे में बहुत कम जानकारी थी। इस बस्ती का सबसे पहला ज्ञान 11 वीं शताब्दी से है। यह तुंगभद्रा नदी के दक्षिणी तट पर पारगमन स्थल के रूप में विकसित हुआ है।</p> <p>&nbsp;</p> <p>१२ वीं शताब्दी में चोलों द्वारा शासित और बाद में १३ वीं शताब्दी में काकतीय राजवंश ने इसे संभाला। कुंगूल तुंगभद्रा नदी के दक्षिणी तट पर एक संक्रमण बिंदु के रूप में विकसित हुआ। विजयनगर राजवंश का हिस्सा बनने से पहले यह अंततः एक जागीरदार के शासन में गिर गया। राजा अच्युता राय ने 16 वीं शताब्दी के दौरान कुरनूल किले का निर्माण किया था।</p> <p>&nbsp;</p> <p>स्रोत: https://en.wikipedia.org/wiki/Kurnool</p>

read more...