Blogs Hub

by AskGif | Aug 25, 2019 | Category :यात्रा

Top Places to visit in Faridabad, Haryana

फरीदाबाद में घूमने के लिए शीर्ष स्थान, हरियाणा

<p>उत्तर भारतीय राज्य हरियाणा में फरीदाबाद सबसे अधिक आबादी वाला और सबसे बड़ा शहर है। यह एक प्रमुख औद्योगिक केंद्र है और भारतीय राजधानी नई दिल्ली की सीमा से लगे राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में स्थित है। यह दिल्ली के प्रमुख उपग्रह शहरों में से एक है और राज्य की राजधानी चंडीगढ़ से 284 किलोमीटर दक्षिण में स्थित है। यमुना नदी उत्तर प्रदेश के साथ पूर्वी जिले की सीमा बनाती है। भारत सरकार ने इसे 24 मई 2016 को स्मार्ट सिटीज मिशन की दूसरी सूची में शामिल किया। फरीदाबाद को दुनिया में आठवां सबसे तेजी से बढ़ने वाला शहर बताया गया है और सिटी मेयर्स फाउंडेशन के सर्वेक्षण में भारत का तीसरा स्थान है। 2001 की दिल्ली क्षेत्रीय योजना के अनुसार, फरीदाबाद दिल्ली महानगर क्षेत्र (डीएमए) का हिस्सा है।</p> <p>&nbsp;</p> <p>2018 में, फरीदाबाद को विश्व स्वास्थ्य संगठन ने दुनिया का दूसरा सबसे प्रदूषित शहर माना था।</p> <p>&nbsp;</p> <p>परिवहन और कनेक्टिविटी</p> <p>रेल</p> <p>फरीदाबाद नई दिल्ली - मुंबई लाइन के ब्रॉड गेज पर है। नई दिल्ली और हजरत निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन ओल्ड फरीदाबाद रेलवे स्टेशन से लगभग 25 किमी दूर है। मुंबई, हैदराबाद, चेन्नई जैसे बड़े शहरों के लिए ट्रेनें यहाँ से आसानी से उपलब्ध हैं। नई दिल्ली से फरीदाबाद के बीच लोकल ट्रेनें चलती हैं।</p> <p>&nbsp;</p> <p>मेट्रो</p> <p>इन्हें भी देखें: वायलेट लाइन (दिल्ली मेट्रो)</p> <p>&nbsp;</p> <p>दिल्ली मेट्रो वायलेट लाइन</p> <p>दिल्ली मेट्रो वायलेट लाइन फरीदाबाद को दिल्ली से जोड़ती है। फरीदाबाद में वायलेट लाइन के विस्तार का उद्घाटन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 6 सितंबर 2015 को किया था। दिल्ली मेट्रो के फरीदाबाद कॉरिडोर में 9 मेट्रो स्टेशन हैं जो सभी एलिवेटेड हैं। मेट्रो को हाल ही में बल्लभगढ़ में दो स्टेशनों- संत सूरदास सिही और राजा नाहर सिंह बल्लभगढ़ के साथ जोड़ा गया है।</p> <p>&nbsp;</p> <p>हरियाणा सरकार भी फरीदाबाद और गुड़गांव को मेट्रो से जोड़ने की योजना बना रही है। वर्तमान में दिल्ली मेट्रो वायलेट लाइन का फरीदाबाद गलियारा राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (NCR) में सबसे लंबा मेट्रो गलियारा है जिसमें 11 स्टेशन हैं और गलियारे की कुल लंबाई 14 किमी है।</p> <p>&nbsp;</p> <p>11 मेट्रो स्टेशन सराय, एनएचपीसी चौक, मेवला महाराजपुर, सेक्टर 28, बडखल मोर, ओल्ड फरीदाबाद, नीलम चौक अजरोनदा, बाटा चौक, एस्कॉर्ट्स मुजेसर, संत सूरदास (सिही और राजा नाहर सिंह) हैं।</p> <p>&nbsp;</p> <p>सड़क</p> <p>&nbsp;</p> <p>दिल्ली फरीदाबाद स्काईवे का एक दृश्य</p> <p>दिल्ली फरीदाबाद स्काईवे (बदरपुर फ्लाईओवर) के माध्यम से फरीदाबाद अच्छी तरह से दिल्ली से जुड़ा हुआ है।</p> <p>&nbsp;</p> <p>एयरवेज</p> <p>फरीदाबाद को इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा, नई दिल्ली द्वारा सेवा प्रदान की जाती है जो फरीदाबाद से लगभग 35 किमी दूर है। हवाई अड्डा भारत में सबसे व्यस्त हवाई अड्डों में से एक है और घरेलू और अंतरराष्ट्रीय हवाई संपर्क प्रदान करता है।</p> <p>&nbsp;</p> <p>पर्यटन</p> <p>बडखल झील</p> <p>&nbsp;</p> <p>सूखे बडखल झील</p> <p>मुख्य लेख: बडखल झील</p> <p>बदहाल झील दिल्ली बॉर्डर से 8 किमी दूर बडखल गांव में स्थित थी। अरावली पहाड़ियों से घिरी झील मानव निर्मित तटबंध थी जो अब सूख चुकी है। 40 एकड़ में फैला झील परिसर, 1969 में सामने आया था। जून 2015 में, हरियाणा सरकार ने यहां की बडखल झील को पुनर्जीवित करने का फैसला किया, ताकि एक बार फिर पर्यटकों को आकर्षित किया जा सके।</p> <p>&nbsp;</p> <p>सूरजकुंड टूरिस्ट कॉम्प्लेक्स और अंतर्राष्ट्रीय शिल्प मेला</p> <p>मुख्य लेख: सूरजकुंड</p> <p>&nbsp;</p> <p>सूरजकुंड अंतर्राष्ट्रीय शिल्प मेला, फरीदाबाद</p> <p>दक्षिण दिल्ली से लगभग 8 किमी की दूरी पर स्थित है। यह 10 वीं शताब्दी का जलाशय है जिसे माना जाता है कि यह तोमर राजा सूरजपाल द्वारा बनवाया गया था। जगह अपने वार्षिक मेले "सूरजकुंड अंतर्राष्ट्रीय शिल्प मेला" के लिए जाना जाता है। मेले में भाग लेने वाले 20 से अधिक देशों के 160,000 विदेशी सहित 1.2 मिलियन आगंतुकों द्वारा मेले के 2015 संस्करण का दौरा किया गया था। यहां की सूरज कुंड झील रॉक कट स्टेप्स से घिरी हुई है।</p> <p>&nbsp;</p> <p>सूरजकुंड अंतर्राष्ट्रीय शिल्प मेला का 2016 संस्करण 30 वां संस्करण होगा और मेले में पीपुल्स रिपब्लिक ऑफ चाइना भाग लेगा। चीन की भागीदारी भारत और चीन के बीच 2014 में वर्ष 2016 को "भारत में चीन का वर्ष" के रूप में मनाने के लिए समझौते का हिस्सा होगी।</p> <p>&nbsp;</p> <p>अनंगपुर बांध</p> <p>मुख्य लेख: अनगपुर बाँध</p> <p>&nbsp;</p> <p>सूरजकुंड बांध नीचे की तरफ</p> <p>हरियाणा के फरीदाबाद जिले में अनगपुर गाँव (जिसे आरंगपुर भी कहा जाता है) के नज़दीक स्थित अनगपुर बाँध, और अधिक प्रसिद्ध सूरजकुंड से 2 किलोमीटर (1.2 मील) दूर है। [उद्धरण वांछित]</p> <p>&nbsp;</p> <p>यह अद्वितीय भारतीय हाइड्रोलिक इंजीनियरिंग संरचना 8 वीं शताब्दी में तोमर वंश के राजा अनंगपाल के शासनकाल के दौरान बनाई गई थी। यह दिल्ली से सड़क मार्ग से दिल्ली - मथुरा सड़क मार्ग से जाने योग्य है। अनंगपुर गाँव में पाए गए दुर्गों के खंडों ने एक अनुमान स्थापित किया है कि इसे अनंगपाल द्वारा लाल कोट के हिस्से के रूप में बनाया गया था जिसे 8 वीं शताब्दी में दिल्ली के पहले शहर के रूप में विकसित किया गया था।</p> <p>&nbsp;</p> <p>डेथ वैली सूरजकुंड</p> <p>धार्मिक स्थल</p> <p>श्री सालासर बालाजी ईवम खाटू श्याम मंदिर मुख्य मथुरा रोड, बल्लभगढ़ फरीदाबाद पर स्थित है</p> <p>श्री १६ Shri पार्श्वनाथ दिगंबर जैन मंदिर सेक्टर १६ में</p> <p>झार मंदिर मंदिर मोहब्बतबाद</p> <p>सिही में नागश्री मंदिर</p> <p>पीर रतन नाथ दरगाह मंदिर</p> <p>सेक्टर 16 ए में साईं बाबा मंदिर</p> <p>सेक्टर 23 में शेरोन फैलोशिप चर्च</p> <p>सैनिक कॉलोनी में शिव मंदिर</p> <p>गुड़गांव-फरीदाबाद एक्सप्रेसवे पर श्री त्रिवेणी हनुमान मंदिर</p> <p>&nbsp;</p> <p>स्रोत: https://en.wikipedia.org/wiki/Faridabad</p>

read more...